Home Latest इतिहास का सबसे बड़ा निवेश करेगी रिलायंस इंडस्‍ट्रीज

नई दिल्ली: रिलायंस इंडस्‍ट्रीज ( RIL) के ऑयल और केमिकल डिविजन में सऊदी अरब की कंपनी ”सऊदी अरेमेको” के साथ इतिहास का सबसे बड़ा 20 फीसदी का निवेश करेगी| यह जानकारी रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने दी| एनुअल जनरल मीटिंग को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने बताया कि विदेशी निवेश के मामले में हमने एक नया मुकाम हासिल किया है| मुकेश अंबानी के मुताबिक RIL ने सऊदी अरेमेको के साथ करार किया है. इसके लिए वह 75 बिलियन डॉलर खर्च करेगी|

मुकेश अंबानी ने मोदी सरकार के 5 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी के लक्ष्‍य पर भरोसा जताया| उन्‍होंने कहा कि वर्तमान में भारत की इकोनॉमी में थोड़ी सुस्‍ती है लेकिन यह अस्‍थायी है| पिछले दिनों पीएम मोदी ने भारत की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर का लक्ष्य रखने की बात कही| यह आगे मुमकिन होता दिख रहा है|

मुकेश अंबानी ने कंपनी के अलग-अलग सेग्‍मेंट ग्रोथ की जानकारी दी| उन्‍होंने बताया कि ऑयल एंड गैस के अलावा जियो और रिटेल ग्रोथ के प्रमुख इंजन हैं| रिलायंस के रिटेल बिजनेस और जियो ने आलोचकों को गलत साबित किया. ये दोनों अपने- अपने सेग्मेंट में टॉप 10 कंपनियों में शामिल हैं|

रिलायंस की योजना विशेष आर्थिक क्षेत्र (सेज) स्थित केवल निर्यात रिफाइनरी की रिफाइनिंग क्षमता को मौजूदा 3.52 करोड़ टन से बढ़ाकर 4.1 करोड़ करोड़ टन करने की है| उसकी देश में कोई नई रिफाइनरी लगाने की योजना नहीं है| बता दें कि रिलायंस गुजरात के जामनगर में दो रिफाइनरियों का परिचालन करती है, जिनकी कुल क्षमता 6.82 करोड़ टन सालाना की है| फिलहाल कंपनी का ध्यान वर्तमान में अपने पेट्रोरसायन और दूरसंचार कारोबार का विस्तार करने पर है|

You may also like

Leave a Comment